• Wed. Sep 29th, 2021

Update जेएनयू में एक बार फिर हिंसा, नकाबपोश लोगों ने कैंपस में घुसकर छात्रों को बुरी तरह पीटा

जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी एक बार फिर सुर्खियों में हैं. रविवार को जेएनयू के कैंपस में जमकर मारपीट हुई. जिसमें कई छात्र-छात्राएं घायल हुए हैं, और सभी घायल छात्रों को दिल्ली के एम्स भर्ती कराया गया था. फिलहाल एम्स में भर्ती सभी घायलों को छुट्टी दे दी गई है. वहीं  दिल्ली पुलिस इस मामले में जल्द एफआईआर दर्ज करने की बात कह रही है. इस घटना के बाद से मुंबई-पुणे, कोलकाता समेत देश के कई हिस्सों में बड़ी संख्या में छात्र सड़कों पर उतर आए हैं. वहीं इसको लेकर राजनीति भी तेज हो गई है.

बता दें कि जेएनयू परिसर में रविवार शाम नकाबपोश लोगों ने घुसकर हमला किया. हमले में जेएनयू छात्र संघ की अध्यक्ष आईशी घोष बुरी तरह घायल हो गईं. वहीं, ये भी बताया जा रहा है कि नकाबपोश लोगों ने छात्रों के साथ-साथ प्रोफेसरों पर भी हमला किया. जेएनयू कैंपस में नकाबपोश हमलावरों ने न केवल छात्रों के साथ मारा पीटा, बल्कि जेएनयू कैंपस में बुरी तरह तोड़फोड़ भी की है. कैंपस के भीतर के छात्रों ने जो वीडियो शेयर किए हैं, उसमें साफ दिख रहा है कि हमलावर बुरी तरह से तोड़फोड़ की है.

वहीं, JNU में हुई हिंसा के बाद केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने दिल्ली पुलिस कमिश्नर से बात की है. गृहमंत्री अमित शाह ने निर्देश दिए हैं कि आईजी लेवल की एक अधिकारी की कमेटी बनाकर जल्द ही गृह मंत्रालय को रिपोर्ट दी जाए. जिसके बाद दिल्ली पुलिस ने जांच शुरू कर दी है. पुलिस को अभी तीन शिकायतें मिली हैं, हालांकि मामले में अभी पुलिस ने केस दर्ज किया गया है या नहीं, इसका पता नहीं चल पाया है. वहीं इस मामले की जांच संयुक्त सीपी रैंक अधिकारी शालिनी सिंह करेंगी.

बता दें कि लेफ्ट ने इस हमले के लिए  ABVP  पर आरोप लगाया है तो वहीं, ABVP ने हमले के लिए लेफ्ट की छात्र इकाइयों को दोषी ठहरा रहे हैं. जेएनयू छात्रसंघ का कहना है कि उनकी अध्यक्ष आइशी घोष और कई दूसरे स्टूडेंट्स को ABVP के सदस्यों ने पीटा है. सामने आए वीडियो और तस्वीर में जेएनयूएसयू अध्यक्ष आइशी घोष खून से लथपथ नजर दिख रही हैं.

दिल्ली पुलिस ने JNU हिंसा मामले में पहली FIR दर्ज कर ली है. इस मामले की जांच अब क्राइम ब्रांच को सौंप दी गई है. पुलिस सूत्रों की मानें, जो वीडियो सामने आए हैं उनमें कुछ की पहचान की जा रही है, जल्द से जल्द उन्हें गिरफ्तार करने की कोशिशें भी की जा रही हैं. पुलिस के मुताबिक, अभी तक कुल 23 लोग घायल हैं उन्हें एम्स से रिलीज किया जा चुका है.

AAJ KEE KHABAR PURANI YAADEN

Latest news in politics, entertainment, bollywood, business sports and all types Memories .