झारखंड विधानसभा की 81 सीटों पर हुए चुनाव के नतीजे सोमवार यानी आज रहे हैं. अभी वोटों की गिनती जारी है और रुझानों में जेएमएम-कांग्रेस गठबंधन को बहुमत हासिल होता दिख रहा है. वहीं सत्ताधारी बीजेपी अब पिछड़ती नजर आ रही है. ऐसे में आजसू-JVM जैसे छोटे दल किसके साथ जाएंगे, यह देखना दिलचस्प होगा. झारखंड में 30 नवंबर से 20 दिसंबर तक पांच चरणों में मतदान हुआ था. बीजेपी जहां एक बार फिर सत्ता पर काबिज होने की उम्मीद कर रही है तो वहीं कांग्रेस, झारखंड मुक्ति मोर्चा और राष्ट्रीय जनता दल गठबंधन की नजर सत्ता पर दोबारा वापसी की है.

इस प्रकार हैं रुझान झारखंड मुक्ति मोर्चा (जेएमएम), कांग्रेस और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) गठबंधन 43 सीटों पर आगे है, जबकि भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) 27 सीटों पर आगे चल रही है. आजसू और जेवीएम 3-3 सीटों पर आगे है. अन्य के खाते में 5 सीटें जाती दिख रही है. बहुमत का जादुई आंकड़ा 41 है. रुझानों के बाद सरकार बनाने की कवायद शुरू हो गई है. कांग्रेस का दावा है कि उनका गठबंधन आजसू और जेवीएम के संपर्क में है.

रुझानों के बाद दिल्ली से रांची तक कांग्रेस-जेएमएम खेमे में जश्न का माहौल है. दिल्ली में कांग्रेस दफ्तर के बाहर पटाखे फोड़े जा रहे हैं और हेमंत सोरेन के घर के बाहर भी कार्यकर्ता जुट चुके हैं जो जश्न में नारेबाजी कर रहे हैं. उनके समर्थकों को भरोसा है कि सोरेन राज्य के अगले मुख्यमंत्री होंगे.