भारतीय क्रिकेट टीम आज वेस्टइंडीज के खिलाफ तीन मैचों की वनडे सीरीज के दूसरे मुकाबल खेलने उतरेगी. यह मैच भारत के लिए बेहद अहम है. क्योंकि वेस्टइंडीज के खिलाफ चेन्नई में खेले गए पहले वनडे में भारतीय गेंदबाज 288 के लक्ष्य का बचाव नहीं कर सके थे. जिसकी वजह से टीम को पहले मुकाबले में हार सामना करना पड़ा था. तीन मैचों की सीरीज में 0-1 से पिछड़ने का मतलब है कि एक और हार भारतीय टीम को घरेलू पिच पर सीरीज से बाहर का रास्ता दिखा देगी, और सीरीज में बने रहने के लिए टीम इंडिया को आज का मैच जीतना बहुत जरूरी है

बता दें कि पहले मैच में गेंदबाजी बेहद कमजोर रही थी लिहाजा इस मैच में कप्तान विराट कोहली गेंदबाजी में बदलाव के साथ ही मैदान पर उतरेंगे. भारतीय टीम की गेंदबाजी इस वक्त बेहद कमजोर नजर आ रही है. टीम में एक मोहम्मद शमी के आलावा कोई अनुभवी तेज गेंदबाज नहीं है. जसप्रीत बुमराह पहले ही फिट होने की प्रक्रिया से गुजर रहे हैं तो वहीं भुवनेश्वर कुमार की चोट ने टीम प्रबंधन की चिंताएं और बढ़ा दी हैं. इस सबके बीच टीम के पास दीपक चाहर, शार्दुल ठाकुर और शिवम दुबे ही इस वक्त तेज गेंदबाजी विकल्प हैं. जिनके पास 5 वनडे का भी अनुभव नहीं है, ऐसे में कोहली स्पिन में ही बदलाव कर सकते हैं.

बता दें कि आज के मुकाबले में कप्तान कोहली जडेजा को प्लेइंग इलेवन से बाहर बिठाकर युजवेंद्र चहल को जगह दे सकते हैं. कुलदीप और चहल की जोड़ी एक साथ काफी असरदार साबित होती है लिहाजा कप्तान भी दूसरे मैच में दोनों को एक साथ खिलाना चाहेंगे. वैसे भी जडेजा बाएं हाथ के बल्लेबाजों के आगे बेअसर साबित होते हैं और वेस्टइंडीज की टीम में बाएं हाथ के बल्लेबाजों टॉप फॉर्म में हैं. तो वहीं गेंदबाजी को और मजबूत करने के लिए कोहली इस मैच में ऑलराउंडर शिवम दुबे की जगह मुख्य तेज गेंदबाज शार्दुल ठाकुर को प्लेइंग इलेवन में शामिल कर सकते हैं. ठाकुर को भुवनेश्वर कुमार के चोटिल होकर सीरीज से बाहर होने के बाद टीम में शामिल किया गया है.

टीम इंडिया का संभावित प्लेइंग इलेवन

रोहित शर्मा, केएल राहुल, विराट कोहली (कप्तान), श्रेयस अय्यर, रिषभ पंत, मनीष पांडे, शार्दुल ठाकुर, दीपक चाहर, मो. शमी, कुलदीप यादव, रवींद्र जडेजा या युजवेंद्र चहल.

वहीं आपको बता दें कि भारतीय टीम पर लगातार दो वनडे सीरीज और लगातार पांच वनडे मैच हारने का खतरा मंडरा रहा है. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मार्च में भारत ने ऑस्ट्रेलिया से 2-3 से सीरीज गंवाई थी. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले दो मैच जीतने के बाद अगले तीनों मैचों में टीम को हार मिली थी. तो वहीं विशाखापट्टनम में भारत और वेस्टइंडीज के बीच पिछले साल खेला गया मैच टाई रहा था.