महाराष्ट्र की  राजनीति में रातोरात एक बड़ा उलटफेर हो गया. जहां बीजेपी महाराष्ट्र में दावा कर रही थी कि वो विपक्ष में बैठने को तैयार है और शिवसेना कांग्रेस और एनसीपी की सरकार बन रही थी, वहीं  इसमें अब एक बड़ा उलटफेर हो चुका है. शनिवार सुबह करीब 8 बजे बीजेपी नेता देवेंद्र फडणवीस ने सीएम पद की शपथ ले ली है. वहीं एनसीपी नेता अजित पवार डिप्टी सीएम बन चुके हैं.

वहीं  देवेंद्र फडणवीस ने सीएम पद की शपथ लेने के बाद कहा कि महाराष्ट्र को एक स्थिर शासन देने की जरूरत थी. कोई खिचड़ी शासन नहीं. ऐसे समय मैं एनसीपी नेता अजीत पवार का अभिवादन व्यक्त करना चाहूंगा. वो हमारे साथ आए. हमारे साथ कुछ अन्य लोग भी आए हैं. इसी के चलते हमने राज्यपाल के सामने सरकार बनाने का दावा किया. मैंने और अजीत पवार ने शपथ ली है. मैंने मुख्यमंत्री पद की शपथ ली है और अजित पवार ने डिप्टी सीएम पद की शपथ ली.

 

महाराष्ट्र में बीजेपी की सरकार बनने पर पीएम नरेंद्र मोदी ने भी ट्वीट किया है. उन्होंने सीएम देवेंद्र फडणवीस को बधाई दी. उन्होंने लिखा,

“देवेंद्र फडणवीस और अजित पवार को सीएम और डिप्टी सीएम पद की शपथ लेने पर शुभकामनाएं. मुझे विश्वास है कि वे महाराष्ट्र के उज्ज्वल भविष्य के लिए मिलकर काम करेंगे.”
कांग्रेस-NCP और शिवसेना की चलती रही बैठक

महाराष्ट्र में बीजेपी जहां पहले पिक्चर से बाहर हो चुकी थी, वहीं अब बीजेपी ने सरकार बना ली है. अचानक शनिवार को बीजेपी और एनसीपी नेताओं ने पहुंचकर शपथ ले ली. इससे पहले एनसीपी-कांग्रेस और शिवसेना की सरकार बनने की खबरें सामने आई थीं. महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस के बीच सहमति-असहमति का दौर हाल ही में खत्म हुआ था. वहीं सीएम पद के लिए शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के नाम पर सहमति बनाई गई थई. ये हैरानी वाली बात है कि इसका ऐलान खुद एनसीपी चीफ शरद पवार ने किया था.