मेजबान इंग्लैंड ने ऐतिहासिक लॉर्ड्स मैदान पर धड़कनों को थाम देने वाले रोमांचक मुकाबले मेंं न्यूजीलैंड को रविवार को सुपर ओवर में अंतिम गेंद पर पराजित कर पहली बार आईसीसी विश्वकप का चैंपियन बनने का गौरव हासिल कर लिया.  न्यूजीलैंड और इंग्लैंड के बीच वर्ल्ड कप 2019 का फाइनल मुकाबला सुपर ओवर में पहुंचने के बाद भी टाई हो गया. जिसके बाद बाउंड्री की संख्या के आधार पर मेजबान इंग्लैंड की टीम को विजेता घोषित कर दिया गया. बता दें कि इंग्लैंड की टीम ने 26 बाउंड्री लगाई. वहीं, न्यूजीलैंड की टीम पूरे मैच में 17 बाउंड्री ही लगा पाई. इंग्लैंड ने न्यूजीलैंड को सुपर ओवर में 16 रनों का टारगेट दिया था, जिसके बाद न्यूजीलैंड ने भी 6 गेंद में 16 रन बनाए.

इंग्लैंड ने पहली बार विश्व कप जीता है. वह चौथी बार फाइनल में पहुंची थी. न्यूजीलैंड ने इंग्लैंड के सामने 242 रनों की चुनौती रखी थी, लेकिन इंग्लैंड 50 ओवरों में 241 रनों पर ऑल आउट हो गई और मैच सुपर ओवर में गया. जहां इंग्लैंड ने न्यूजीलैंड के सामने 16 रनों की चुनौती रखी. सुपर ओवर में भी मैच टाई रहा और इंग्लैंड को ज्यादा बाउंड्रीज मारने के कारण विजेता घोषित किया गया.

इंग्लैंड के लिए इस मैच में सबसे ज्यादा रन बेन स्टोक्स ने बनाए. उन्होंने 98 गेंदों पर पांच चौके और दो छक्कों की मदद से नाबाद 84 रन बनाए. जोस बटलर ने 59 रन बनाए.

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला करने वाली कीवी टीम के लिए हेनरी निकोल्स ने अर्धशतक जमाया जिसकी बदौलत कीवी टीम 50 ओवरों में आठ विकेट खोकर 241 रन बना सकी.

निकोलस ने 77 गेंदों का सामना कर चार चौकों की मदद से 55 रनों की पारी खेली. टॉम लाथम ने 47 और कप्तान केन विलियमसन ने 30 रनों का योगदान दिया. इंग्लैंड के लिए क्रिस वोक्स और लियाम प्लंकेट ने तीन-तीन विकेट लिए.

ec0ada4ac1f198557fa44a96dab675d8

सुपर ओवर

विश्वकप के इतिहास में खिताब के लिए पहली बार सुपर ओवर का सहारा लिया गया जिसमें मेजबान टीम के जीतते ही इंग्लैंड जश्न के सागर में डूब गया। इंग्लैंड ने सुपर ओवर में ट्रेंट बोल्ट की गेंदों पर 15 रन बटोरे. इंग्लैंड की पारी में अर्धशतक बनाने वाले जोस बटलर और बेन स्टोक्स ने सुपर ओवर खेला जिसमें बटलर ने दो चौके लगाए. न्यूजीलैंड ने भी सुपर ओवर में 15 रन बनाए और सुपर ओवर टाई रहा लेकिन निर्धारित पारी में ज्यादा चौके लगाने के कारण इंग्लैंड विजेता बन गया

कुछ ऐसा था आखिरी ओवर का रोमांच

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी न्यूजीलैंड की टीम निर्धारित 50 ओवर में 241 रन बनाए, जिसके जवाब में इंग्लैंड की शुरुआत बेहद खराब रही. नियमित अंतराल पर उसके विकेट गिरते रहे, लेकिन पांचवें विकेट के लिए जोस बटलर और बेन स्टोक्स के बीच हुई 110 रनों की साझेदारी ने मैच को रोमांचक मोड़ पर पहुंचा दिया.

इंग्लैंड की उम्मीदों को तगड़ा झटका तब लगा जब जोस बटलर के रूप में उसका छठा विकेट गिरा. इसके बाद उसे लगातार झटके लगते रहे, लेकिन बेन स्टोक्स ने एक छोर को संभाले रखा. उन्होंने शानदार पारी खेलते हुए नाबाद 84 रन बनाए और मैच को आखिरी ओवर तक ले गए. आखिरी ओवर में इंग्लैंड को 15 रनों की जरूरत थी. इंग्लैंड की ओर से क्रीज पर बेन स्टोक्स और आदिल राशिद क्रीज पर थे.

50वें ओवर की पहली गेंद- न्यूजीलैंड की ओर से ट्रेंट बोल्ट की गेंद का बेन स्टोक्स ने सामना किया. इस गेंद पर स्टोक्स ने सिंगल नहीं लिया और स्ट्राइक अपने पास रखा.

50वें ओवर की दूसरी गेंद- अब 5 गेंदों में 15 रनों की जरूरत थी. बोल्ट गेंदबाजी कर रहे थे और सामने थे स्टोक्स. बॉल्ट की ये गेंद डॉट रही.

50वें ओवर की तीसरी गेंद- अब 4 गेंदों में 15 रनों की जरूरत थी. बोल्ट की इस गेंद पर स्टोक्स ने शानदार छक्का जड़ा. इस छ्क्के के साथ ही इंग्लैंड को अब 3 गेंदों में 9 रनों की जरूरत थी.

50वें ओवर की चौथी गेंद- बोल्ट की चौथी गेंद फुल टॉस रही. स्टोक्स ने इसका पूरा फायदा उठाया. उन्होंने इसपर शानदार शॉट लगाया और दो रन लिए. हालांकि इस दौरान स्टोक्स को रन आउट करने के चक्कर में गप्टिल नेथ्रो किया और गेंद स्टोक्स के बल्ले से लगकर चार रन के लिए चली गई. इसके साथ ही इंग्लैंड के खाते में 6 रन जुड़े. 6 रन के साथ ही इंग्लैंड को अब 2 गेंदों में 3 रनों की जरूरत थी.

50वें ओवर की पांचवीं गेंद- बोल्ट की गेंद को स्टोक्स ने खेला और दो रन लेने की कोशिश की. इससे पहले की राशिद दूसरा रन पूरा करते वो सैंटनर के सीधे थ्रो पर रन आउट हो गए. अब 1 गेंद पर 2 रनों की जरूरत थी.

50वें ओवर की छठी गेंद- बोल्ट गेंदबाजी कर रहे थे और सामने थे स्टोक्स. स्टोक्स ने गेंद खेली और दो रन लेने की एक बार फिर कोशिश की. हालांकि वो दो रन तो नहीं ले पाए लेकिन एक रन जरूर उनके खाते में जुड़ा और इस तरह से मैच सुपर ओवर तक पहुंचा.

555_1563132092_618x347