भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच सिडनी टेस्ट मैच ड्रॉ पर खत्म हुआ. टीम इंडिया ने चार मैचों की यह टेस्ट सीरीज 2-1 से अपने नाम कर ली है. इसी के साथ ही भारत ने ऑस्ट्रेलिया की धरती पर इतिहास रच दिया है. भारत 72 साल बाद कंगारुओं के घर में घुस कर उन्हें मात देने में सफल रहा. सिडनी टेस्ट में 193 रन बनाने वाले चेतेश्वर पुजारा मैन ऑफ द मैच रहे, साथ ही मैन ऑफ द सीरीज का अवॉर्ड भी उन्हीं को मिला. पुजारा ने चार टेस्ट मैचों की सीरीज में कुल 521 रन बनाए.

Man of the Match and Man of the Series award for Cheteshwar Pujara
Man of the Match and Man of the Series award for Cheteshwar Pujara

72 साल बाद भारत ने ऑस्ट्रेलियाई धरती पर पहली बार कोई टेस्ट मैचों की सीरीज जीती है. आजादी के बाद पहली बार कोई भारतीय टीम इस देश में टेस्ट सीरीज जीतने में कामयाब रही है. विराट कोहली की कप्तानी वाली टीम इंडिया ने इतिहास के सुनहरे पन्नों में अपना नाम दर्ज करा लिया है,

बता दें कि भारत ने एडिलेड में खेला गया पहला टेस्ट मैच 31 रनों से जीता था, जबकि पर्थ में हुए दूसरे टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 146 रनों से हराते हुए वापसी की थी, लेकिन मेलबर्न में विराट की सेना ने पलटवार करते हुए कंगारुओं को 137 रनों से मात देकर टेस्ट सीरीज में 2-1 से बढ़त बना ली. सिडनी में चौथा टेस्ट ड्रॉ रहने पर टीम इंडिया ने 2-1 से ऑस्ट्रेलिया में पहली बार टेस्ट सीरीज जीत ली है.

आपको बता दें कि भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया में पहली टेस्ट सीरीज साल 1947 में आजादी के बाद लाला अमरनाथ की कप्तानी में खेली थी. उस दौरे पर भारत को कंगारू टीम ने 5 मैचों की टेस्ट सीरीज में 4-0 से शिकस्त दी थी. भारत तब से लेकर अब जाकर ऑस्ट्रेलिया में कोई टेस्ट सीरीज जीतने में सफल रहा है. 1947 दौरे को मिलाकर भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया में कुल 12 टेस्ट सीरीज खेली है. जिनमें से उन्हें 8 सीरीज में कंगारू टीम से शिकस्त मिली है. भारत 1980-81, 1985-86, 2003-04 में 3 सीरीज ड्रॉ करवाने में कामयाब रहा है और अब 2018-19 में भारत ने पहली बार ऑस्ट्रेलिया को उसके घर में पीटकर 1 टेस्ट सीरीज अपने नाम कर ली.

Sydney Test draw, India won 2-1
Sydney Test draw, India won 2-1

बता दें कि पांचवें दिन का खेल बारिश की वजह से शुरू नहीं हो सका था. भारत ने अपनी पहली पारी सात विकेट पर 622 रन बनाकर समाप्त घोषित की थी, जिसके जवाब में ऑस्ट्रेलिया 300 रन पर आउट हो गया और भारत को 322 रन की बढ़त मिली. वही पहली पारी में कुलदीप ने पांच, जडेजा और शमी ने दो-दो और बुमराह ने एक विकेट लिया. वहीं चौथे दिन का खेल खत्म होने तक ऑस्ट्रेलिया ने फॉलोऑन खेलते हुए  6/0 रन बनाए थे